ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें

Text to Identify Refresh CAPTCHA कैप्चा रीफ्रेश करें

*साइन-अप करके मैं रिलायंस मनी से ई-मेल प्राप्त करने के लिए सहमत हूं

 

3D प्रिंटिंग किस तरह से आपके उत्पादन व्यवसाय को नई शक्ति प्रदान कर सकती है, आइए जानें

3D प्रिंटिंग को लंबे समय से वन-ऑफ प्रोटोटाइप को तुरंत डिजाइन करने व बनाने का टूल माना जाता रहा है। लेकिन तकनीक के अधिक सुलभ, किफायती और सक्षम होते जाने के साथ, यह निर्माताओं द्वारा उनके व्यवसाय संचालन के तौर-तरीकों को नया रूप देने के लिए तैयार है। डिजाइनिंग, प्रोटोटाइपिंग से लेकर उत्पादन तक, 3D प्रिंटरों ने वैश्विक उत्पादन व्यवसाय परिदृश्य को रूपांतरित कर दिया है

'एडिटिव मैन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्री' के नाम से भी ज्ञात 3D प्रिंटिंग क्षेत्र में राजस्व में 2016 से 17.4% की वृद्धि हुई है। अब यह अनेक उद्योगों तक विस्तृत होता हुआ 6 बिलियन USD का कारोबार बन गया है। शोधकर्ता फर्मों का अनुमान है कि यह आंकड़ा 2020 तक 30% से अधिक बढ़ेगा

3D प्रिंटिंग तकनीक के व्यापक अनुप्रयोगों, तथा इस बारे में अधिक जानने के लिए नीचे पढ़ें, कि यह किस तरह से आपके उत्पादन व्यवासय को नई शक्ति प्रदान कर सकता है

 

त्वरित व्यावसायिक संवाद को बढ़ावा

ग्राहकों से लेकर कर्मचारियों और विविध हितधारकों तक, चाहे वे सुदूर स्थानों पर रहते हों, संवाद कायम रखना उत्पादकता और सफलता के लिए अनिवार्य है। 5G के साथ आप उच्च कोटि के वीडियो, ऑडियो और चित्रों को बिना किसी विलम्ब के रीयल टाइम में स्ट्रीम कर सकते हैं और इस तरह हर महत्त्वपूर्ण व्यक्ति तक पहुंच सकते हैं

5G की अधिक स्पीड और ज्यादा कवरेज, कर्मचारियों, ग्राहकों और विविध हितधारकों से बेहतर और उन्नत संवाद में सहायता देकर बेहतर व्यावसायिक सफलताओं का मार्ग प्रशस्त करेगी

 

निवेश पर उच्च प्रतिफल

तकनीक में लगातार उन्नति होने के साथ, 3D प्रिंटर अधिकाधिक पार्ट्‌स निर्मित करते हुए पारंपरिक उत्पादन तकनीकों की तुलना में निवेश पर अधिक प्रतिफल (ROI) प्रदान कर सकते हैं। चूंकि प्रक्रियाएं स्वचालित होने के साथ इन प्रिंटरों की उत्पादन क्षमता बढ़ती है, इसलिए उत्पादन की कुल लागत काफी कम हो जाती है। इससे ROI अधिक बढ़ जाता है, लागत-कुशल उत्पाद तेजी से तैयार होते हैं, और इसमें मानवीय हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं होती

 

डिजाइनों में अधिक लचीलापन

चूंकि 3D प्रिंटिंग अधिक लचीली तकनीक है, इसलिए इसमें डिजाइन करने वाली टीमों को अधिक मजबूत और अधिक रोचक ढांचों के साथ प्रयोग करने के विकल्प मिलते हैं। यह उनको ऐसी जटिल ज्यामितीय आकृतियां बनाने में भी सक्षम बनाता है, जिनको बनाने में पूर्ववर्ती उत्पादन विधियां अक्षम थीं

इस तकनीक ने क्लाइंट को भी उनके डिजाइन के शुरूआत से अंत तक पूरी निर्माण प्रक्रिया से जु़ड़ने के लिए सशक्त बनाया है। डिजाइन से लेकर वास्तविक फैब्रिकेशन तक के लिए प्रयुक्त सामग्रियों में कोई समायोजन करने की आवश्यकता होने पर, क्लाइंट अंतिम उत्पादन से पहले ही तुरंत प्रतिक्रिया दे सकता है

 

तीव्र उत्पादन प्रक्रिया

इस एडिटिव उत्पादन तकनीक ने, किसी उत्पाद के कारगर प्रोटोटाइप के निर्माण में लगने वाले समय में काफी कटौती कर दी है। अधिक सस्ते और तीव्र प्रोटोटाइप निर्माण उत्पादन की प्रक्रिया की गति बढ़ाते हैं, और इस तरह समग्र लागतों में कमी लाते हैं और कुल उत्पादन प्रक्रिया को त्वरित बनाते हैं। इससे निर्माता डिजाइनिंग से सीधे उत्पादन तक पहुंच जाता है, और इसलिए मार्केट तक पहुंचने में लगने वाला समय कम हो जाता है क्योंकि इसके लिए टूलिंग प्रक्रिया की आवश्यकता नहीं होती

 

कचरे में कमी और संसाधनों का बेहतर उपयोग

पारंपरिक उत्पादन विधियों के विपरीत, जिनमें कि शीटों, रॉडों, या बीमों के रूप में प्रयुक्त कच्चे माल के कारण मैन्युफैक्चरिंग फ्लोर पर बड़ी मात्रा में कबाड़ तैयार होता है, 3D प्रिंटिंग तकनीक में केवल उत्पाद बनाने के लिए आवश्यक सामग्रियों का ही प्रयोग किया जाता है। बची सामग्रियों को बाद की उत्पादन प्रक्रियाओं में प्रयोग किया जा सकता है, और सैद्धांतिक रूप से, एडिटिव उत्पादन प्रक्रिया शून्य कचरा उत्पादन में सक्षम है

3D प्रिंटिंग तकनीक के विकास ने विविध उद्योगों में अनेक अनुप्रयोगों के साथ बाज़ार में असंख्य नए अवसर खोल दिए हैं। हालांकि इस तकनीक का सबसे बड़ा प्रभाव यह है कि इससे छोटे उद्यमियों के लिए प्रोटोटाइपिंग की कम लागतों की रूकावटें कम हो गई हैं, लचीलापन बढ़ गया है और कम पूंजी निवेश के साथ पार्ट्‌स का उत्पादन करना संभव बना है

आप रिलायंस मनी से उपकरण ऋण लेकर 3D प्रिंटिंग की क्षमताओं का लाभ उठा सकते हैं और अपने उत्पादन व्यवसाय को आवश्यक गति प्रदान कर सकते हैं