ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें

Text to Identify Refresh CAPTCHA कैप्चा रीफ्रेश करें

*साइन-अप करके मैं रिलायंस मनी से ई-मेल प्राप्त करने के लिए सहमत हूं

 

ये वज़हें, आपके छोटे व्यवसाय के डिजिटल रूपांतरण में रूकावट बन सकती हैं

डिजिटलीकरण से न केवल दूसरों से संवाद का हमारा तरीका बदला है, बल्कि हमारे काम-काज के तरीके भी उन्नत हुए हैं। डिजिटल रूपांतरण और इसके फायदे, एक दशक से अधिक समय से चर्चाओं का केंद्र बने रहे हैं। व्यावसायिक जगत के विकास में डिजिटलीकरण निरंतर योगदान कर रहा है। इससे काम के घंटों में लचीलापन आया है, नवप्रवर्तक सोच विकसित हुई है, और नए व्यावसायिक मॉडलों के निर्माण में सहायता मिली है। डिजिटलीकरण का उपयोग करने वाली कंपनियों और उद्यमियों को उनके प्रयासों में आशातीत सफलताएं प्राप्त हुई हैं

हालांकि कुछ विशेष चुनौतियां हैं, जो आपकी डिजिटल प्रगति में रूकावट डाल सकती हैं

 

आपकी कंपनी का ढांचा

डिजिटलीकरण अपनाने के लिए, बदली हुई मानसिकता के अलावा कुछ अधिक चाहिए। आपको विभाग बदलने, नई भूमिकाएं आवंटित करने, और अपने संगठन का ढांचा संशोधित करने की ज़रूरत हो सकती है। इससे कर्मचारियों की अनिच्छा और इससे जुड़ी चुनौतियां उत्पन्न हो सकती हैं

 

कर्मचारियों की अनिच्छा

नियमित दिनचर्या से चिपके रहना, हम सभी को सुविधाजनक लगता है। डिजिटलीकरण की प्रक्रिया के लिए हमें परिवर्तन करने होते हैं, और इससे कर्मचारी खुद को आशंकित महसूस कर सकते हैं। आपके कर्मचारियों की चिंताओं को कम करने के उपाय करने से आप इस प्रक्रिया को अधिक आसान बना सकते हैं। उनको यह समझाने पर आपको ध्यान केंद्रित करना चाहिए कि डिजिटलीकरण किस तरह से उनका काम ज्यादा आसान और ज्यादा लाभप्रद बना सकता है

 

अपर्याप्त बजट

डिजिटलीकरण में रूकावट डालने वाली बजट की सीमाएं एक बड़ी चुनौती होती है, खासकर यदि आपका व्यवसाय अभी शुरूआती दौर में हो। अपनी योजना के प्रत्येक चरण को अपने बजट के हिसाब से तय करना, तथा अपने डिजिटलीकरण अभियान के लिए उचित राशि निर्धारित करना बहुत आवश्यक है

 

व्यावहारिक दृष्टिकोण न होना

सफलता कभी आकस्मिक नहीं होती-इसके लिए सदैव सोच-समझकर योजना बनाने और सटीकता से उसे लागू करने की आवश्यकता होती है। आपको क्या चाहिए, उसका एक सटीक पूर्वावलोकन अपने मन में निश्चित करना अनिवार्य है। अपने डिजिटल विज़न को साकार करने में विफलता, प्रायः इस बारे में अस्पष्ट विचारों का परिणाम होती है, कि अंतिम परिणाम किस प्रकार के होने चाहिए थे

 

ग्राहकों के डाटा का अपर्याप्त संग्रह

डिजिटलीकरण में सफलता का ग्राहकों के डाटा के प्रभावी उपयोग से गहरा संबंध है। आप अपने उपभोक्ताओं का डाटा बहुत परिश्रम से एकत्र कर सकते हैं, लेकिन यदि उसे उपयोगी स्वरूप में संकलित न किया जा सकता हो तो उसका कोई महत्त्व नहीं है

इसमें कोई शक नहीं, कि ये चुनौतियां किसी भी नए व्यावसायिक मालिक को आशंकित कर सकती हैं। लेकिन इन चुनौतियों से निबटने पर आपको निम्न बेहतरीन लाभ भी प्राप्त होते हैं

 
  • 24/7 आपके डाटा तक पहुंच

  • आपके लिए, लागतें कम करने में सहायक

  • महज कुछ कीवर्ड का उपयोग करके सूचनाएं पुनर्प्राप्त की जा सकती हैं

  • डिजिटल लाइब्रेरी का रखरखाव सस्ता पड़ता है

  • असीमित स्टोरेज की सुविधा मिलती है

  • नेटवर्किंग और लिंकिंग क असीमित संभावनाएं

  • किसी भी समय पर, एक से अधिक व्यक्तियों द्वारा फाइलों तक पहुंच हासिल की जा सकती है

  • आपके डाटा की उन्नत सुरक्षा

  • किसी आपदा से फुलप्रूफ रिकवरी

  • पर्यावरण के अनुकूल

 

यह स्पष्ट है, कि डिजिटलीकरण के फायदे अधिक हैं, और यह लंबे समय में आपके व्यवसाय को रूपांतरित करने में सहायक है