ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें

Text to Identify Refresh CAPTCHA कैप्चा रीफ्रेश करें

*साइन-अप करके मैं रिलायंस मनी से ई-मेल प्राप्त करने के लिए सहमत हूं

 

डिजिटल ऋण किस प्रकार भारतीय एसएमई की मदद कर रहा है

तकनीक ने हर चीज़ की तरह डिजिटल ऋण के माध्यम से वित्तपोषण (फाइनेंसिंग) को भी ज्यादा आसान, ज्यादा तीव्र और ज्यादा सुविधाजनक बना दिया है। जहां लोन प्राप्त करने के लिए बैंक जाने और कई सारे फार्म भरने का तरीका प्रचलित है, वहीं डिजिटल ऋण एसएमई को अनेक फायदे प्रदान करता है

आइए देखें कि किस तरह से डिजिटल ऋण एसएमई की मदद कर रहा हैः

 

अपारंपरिक तरीका

डिजिटल ऋण ने एनबीएफसी को अनेक अपारंपरिक तरीके अपनाने की सुविधा दी है, जो एसएमई के लिए लाभप्रद हैं। उदाहरण के लिए, कई गैरज़रूरी दस्तावेज स्कैन करने के बजाय ऋणदाता अब अनेक कच्चे डाटा प्वाइंट्‌स के अतिरिक्त क्रेडिट स्कोर कार्ड का भी उपयोग कर रहे हैं। अभ्यर्थियों के वित्तीय व्यवहार जैसी सूचनाओं का विश्लेषण करने के लिए कुछ तो टेस्ट भी आयोजित करते हैं। वास्तव में कई ऋणदाता आपके क्रेडिट स्कोर का आकलन करने के लिए सोशल मीडिया की सूचनाओं का भी उपयोग करते हैं

इससे ऋणदाताओं को केवल बुनियादी दस्तावेजों के साथ एसएमई को बिना किसी गारंटर या बंधक के असुरक्षित ऋण प्रदान करने का उपाय मिलता है। पारंपरिक ऋण प्रणाली में ऐसी बात सोची भी नहीं जा सकती थी

 

आसान और सुविधाजनक

पारंपरिक तरीके से लोन पाने के लिए, आपको खुद ढेर सारे दस्तावेज़ लेकर वित्तीय संस्थान में जाना होता है और कई फार्म भरने होते हैं। डिजिटल ऋण आपकी यह परेशानी दूर करता है

डिजिटल ऋण में बोट्‌स और खासतौर से डिजाइन किए गए एल्गोरिद्‌म का उपयोग करके निजी और सार्वजनिक स्रोतों से सारी प्रासंगिक जानकारी निकालते हुए कागज़ी कार्यवाही कम कर दी जाती है। इससे आवेदन प्रक्रिया बहुत आसान और सुविधाजनक बन जाती है

 

तुरंत मूल्यांकन

डिजिटल ऋण प्रक्रिया में मानवीय हस्तक्षेप की कम से कम ज़रूरत पड़ती है, जिससे गलतियां और विसंगतियां नहीं होतीं। इससे न केवल मूल्यांकन तीव्र गति से हो पाता है, बल्कि यह एकदम सटीक और निष्पक्ष भी होता है

ऐसे तीव्र और विश्वसनीय आकलन से क्रेडिट अंडर-राइटिंग काफी अधिक व्यावहारिक बन जाती है। आरंभ में क्रेडिट जोखिम मूल्यांकन में कुछ दिनों से लेकर कुछ सप्ताहों तक का समय लग जाता था। अब यह डिजिटल प्रोसेसिंग की मदद से कुछ ही मिनटों में हो जाता है

 

ऋण वितरण की तीव्रता

जब भी आपको नकदी की ज़रूरत हो, डिजिटल ऋण वरदान साबित हो सकती है। डिजिटल प्लेटफार्म पर ऋण वितरण की गति इतनी तेज होती है कि इसमें केवल 2 से 3 दिन लगते हैं। यह देखते हुए कि किस तरह से ज्यादातर एसएमई उत्पाद और सेवाएं प्रदान करने के 2-3 महीने बाद भुगतान प्राप्त करते हैं, निधियों तक यह तुरंत पहुंच महत्त्वपूर्ण है। ऋणों का तुरंत वितरण कार्यशील पूंजी की ज़रूरत पूरी करता है, जिससे आपका कारोबार सुचारू ढंग से चलाने में सहायता मिलती है

 

जागरूक निर्णय

डिजिटल ऋण आपको जागरूक निर्णय करने की सुविधा देता है। आप समय देकर विविध ऋणदाताओं और उनकी शर्तों के बारे में खोजबीन कर सकते हैं और अपने एसएमई के लिए सबसे उचित विकल्प चुन सकते हैं। इसके अलावा, लोन के लिए आवेदन कर देने के बाद आप लगभग पूरी प्रक्रिया को ऑनलाइन ट्रैक कर सकते हैं

 

कम ब्याज दर

डिजिटल ऋण के कारण, अनेक ऋणदाता कम ब्याज दरों पर लोन देने में सक्षम हुए हैं। तकनीक की सहायता के कारण उनके लिए ऐसा करना संभव हुआ है। अंडरराइटिंग से लेकर प्रचालन लागतों तक डिजिटल ऋण अनेक खर्चे कम कर देता है। इसलिए डिजिटल ऋण, एसएमई के लिए वित्तपोषण अधिक सुलभ बना देता है

 

सुरक्षा

चूंकि डिजिटल ऋण में तकनीक का काफी उपयोग किया जाता है, इसलिए वित्तीय सूचनाओं और आपकी संवेदनशील सूचनाओं की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाता । क्लाइंट के सभी विवरण एन्क्रिप्टेड और सुरक्षित रखने के लिए ऋणकर्ता समुचित उपाय करते हैं

डिजिटल ऋण से ऋणदाता और ऋणकर्ता के बीच दूरी को प्रभावी और कुशल तरीके से दूर करने में मदद मिलती है। यह सभी प्रक्रियाओं जैसे कि आवेदन, अंडरराइटिंग और वितरण आदि में लगने वाला समय कम करता है। अपेक्षाकृत कम ब्याज दरों, बेजोड़ सुरक्षा, तथा निधियों तक तुरंत पहुंच के साथ डिजिटल ऋण एसएमई को विस्तार करने में मदद कर रहा है

रिलायंस मनी में हम डिजिटल ऋण प्रक्रिया के माध्यम से दोपहिया वाहन ऋण प्रस्तावित करते हैं। किसी दोपहिया वाहन आउटलेट पर जाएं और रिलायंस मनी के त्वरित व आसान दोपहिया वाहन ऋणों के बारे में पूछें, जो प्रतिस्पर्धी ब्याज दरों पर आपको अपने सपनों की बाइक तुरंत पाने में मदद करते हैं