ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें

Text to Identify Refresh CAPTCHA कैप्चा रीफ्रेश करें

*साइन-अप करके मैं रिलायंस मनी से ई-मेल प्राप्त करने के लिए सहमत हूं

 

आपके अगले बिजनेस निगोशिएशन में मदद के लिए 6 सुझाव

मोलभाव (नेगोशिएशन) के कौशल, आपके दैनिक निजी जीवन में तथा औपचारिक व्यावसायिक लेनदेन में भी महत्त्वपूर्ण हैं। किसी परिस्थिति में सफल नेगोशिएशन के लिए दो पक्षों के मिलने, तथा दोनों को स्वीकार सहमति तक पहुंचने की आवश्यकता होती है

सफलतापूर्वक नेगोशिएशन में सक्षम बनने के लिए सही अंतर्वैयक्तिक और संवाद कुशलताओं का सेट आवश्यक होता है। आपके अगले व्यावसायिक नेगोशिएशन में मदद के लिए यहां छह कारगर सुझाव दिए गए हैं

 

1. अपने क्लाइंट को भलीभांति जानें

आगे बढ़ने से पहले, अपने क्लाइंट के व्यवसाय और व्यवहार का पूरा अध्ययन करें। उसकी आवश्यकताएं समझने के लिए यह समझना ज़रूरी है कि आपके क्लाइंट का इतिहास, उसकी पृष्ठभूमि, और उसका उद्योग क्षेत्र क्या है। आपके क्लाइंट के बारे में समग्र जानकारी, आपको सही कदम उठाने का आधार प्रदान करेगी

 

2. अपनी पिच के साथ तैयार रहें

अपनी पिच भलीभांति प्रस्तुत करने से आपका आधा काम हो जाता है। आपका क्लाइंट, आपकी पिच को जितना ही पसंद करेगा, नेगोशिएट करना उतना ही आसान होगा। अपनी पिच तैयार करते समय आपको न केवल अपनी बल्कि अपने प्रतिस्पर्धियों की भी पेशकश समझनी होगी, ताकि आप खुद को बाकी से अलग साबित कर सकें

क्लाइंट से मिलने से पहले, पिच का फुल प्रूफ होना सुनिश्चित करने के लिए, उसका एक-दो बार अच्छे से अध्ययन कर लेना ठीक रहता है

 

3. सुनें और समझें

कभी-कभी सतर्कता से सुनना और अपने क्लाइंट के महत्त्वपूर्ण बिंदु समझना सर्वोत्तम रहता है। इससे आपको यह समझ में आ सकता है कि वे वास्तव में क्या चाहते हैं, और जान सकते हैं कि आप वास्तव में किस तरह से कारगर समाधान पेश कर सकते हैं। उनके लिए जो सचमुच महत्त्वपूर्ण है, उसे जानना आपको सही नेगोशिएट करने में बड़ी मदद कर सकता है

 

4. परस्पर लाभकारी स्थिति निर्मित करें

सर्वोत्तम निष्कर्ष पर अड़ें नहीं। दूसरी पार्टी के साथ मिलकर नेगोशिएट और प्रयास करने के लिए तैयार रहें। पारस्परिक लाभकारी स्थिति न केवल आपको डील हासिल करने में, बल्कि लंबे समय का व्यावसायिक संबंध विकसित करने में भी मदद कर सकती है

हो सकता है कि यह आपके लिए बेस्ट ऑफर न साबित हो, लेकिन आपको एक अच्छी डील और नया कारोबारी संबंध मिल सकता है, जिसका आपको आगे लाभ मिलेगा

 

5. यथार्थवादी रहें

यथार्थवादी रहने, तथा दूसरी पार्टी से समानुभूति रखने से, अच्छी डील से मिले अल्पकालीन फायदों के बजाय ज्यादा महत्त्वपूर्ण टिकाऊ संबंध बन सकते हैं। आपकी तरह दूसरी पार्टी के लिए भी वित्तीय दबाव हो सकते हैं। ऑफर प्रस्तुत करते समय इसका ध्यान रखें

 

6. लक्ष्य ऊंचा रखें

सर्वोत्तम पेशकश देने वाली आप बाज़ार में सर्वोत्तम कंपनी नहीं हो सकते हैं, लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि आप खुद को कम करके सेल करें और अपने उत्पादों व सेवाओं का वास्तविक से कम मूल्य आंकें। अपनी पोजीशन को लेकर दृढ़निश्चयी और आशावादी रहें, और इससे आपको सफल नेगोशिएशन में मदद मिलेगी

अच्छे नेगोशिएशन, कारोबारी सफलता में बड़ा योगदान कर सकते हैं। ये आपको बेहतर संबंध बनाने, दीर्घकालीन वचनबद्धताएं मजबूत बनाने में मदद करेंगे और भावी समस्याओं व टकरावों से बचने में आपकी मदद करेंगे। इससे कारोबारी विस्तार और वृद्धि में मदद मिलती है

यदि आप नए क्षेत्रों में अपने व्यवसाय व उपक्रम का विस्तार करना चाहते हैं, तो रिलायंस मनी से व्यावसायिक विस्तार ऋण यह प्रक्रिया तेज करने में आपकी मदद कर सकता है